Menu

Don't Miss

नीरव मोदी, गुप्ता बंधु और नरेश गोयल में क्या समान है ?

पंजाब नेशनल बैंक ही नहीं, अभी और भी कई बैंक इसकी चपेट में आने वाले हैं। उल्लेखनीय है कि पिछले हफ्ते के 3 बड़े घोटालों के बीच एक व्यक्ति का नाम हर जगह उभर कर आ रहा है और वो है जैट ऐयरवेज़ के मालिक नरेश गोयल का। जैट ऐयरवेज़ की हवाई उड़ानों पर नीरव मोदी के विज्ञापन अभी तक प्रसारित हो रहे हैं। इन दोनों कंपनियों के बीच आर्थिक लेनदेन का जो कारोबार चल रहा है,

Read more ...

take-off

  • एक लड़ाई आधी-अधूरी !

    हमारे देश में कैंसर रोगियों की बढ़ती संख्या के मद्देनज़र विख्यात प्राकृतिक चिकित्सक और चिकित्सा लेखक डॉ अबरार मुल्तानी ने सरकार की कैंसर नीति के बारे में कुछ बहुत ज़रूरी सवाल उठाए हैं जिनपर गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है। सरकारी विज्ञापनों को देखें तो महसूस होगा कि कैंसर का एकमात्र या उसका सबसे बड़ा कारक तम्बाकू है। यह एक अर्द्धसत्य है।

     
  • i-Proclaim Annual Research Award, 2017

    It is indeed an astounding pleasure to convey that i-Proclaim 3rd Annual Research Conference (About Business, Humanity and Law) has already been organized on 31st December, 2017 at Mini Auditorium, IIUM in Kuala Lumpur, Malaysia. This prestigious international event has provided the scholarly academic platform

     
  • Academic Leadership Award 2017

    Green ThinkerZ Society, one of the accelerating societies in the world has already recognised the salient contributions of individuals in their great academic and administrative domains respectively. It is a remarkable initiative of this prestigious society to stimulate all the elite leaders just not to contribute a lot for this overwhelming nation

     
donate_blood.jpg

Poetry

  • In Search Of Tremors

    Night comes like a 
    black dog 
    around the corner. 

    I start paying off the debt 
    cry for cry, with a 
    ceremonial sword, 
    cutting off the shadows 
    falling from the 
    distant hills. 

    My questions are burning― 
    on pyre. How did I fail myself? 
    Why some mercy 
    was unacceptable to me? 

    Standing in midstream 
    I let go your hand, 
    and drown in quick sand of thoughts. 
    Now a poem will 
    lift me from the ruins.

     
  • Nuit Blansh

    I will gather you― 
    through the uproar, 
    when moon picks up the sneaky path, 
    from dizzying heights 
    of hunger. 

    The poverty of words 
    hides the bread, .. 
    You cannot eat an emblem. 

    The calibration has failed. 
    Milk contains the 
    contaminated water. 

    Everyone has one's own 
    book, where you write your name 
    and bear malice for everybody.

     

Social Issues

एक लड़ाई आधी-अधूरी !

हमारे देश में कैंसर रोगियों की बढ़ती संख्या के मद्देनज़र विख्यात प्राकृतिक चिकित्सक और चिकित्सा लेखक डॉ अबरार मुल्तानी ने सरकार की कैंसर नीति के बारे में कुछ बहुत ज़रूरी सवाल उठाए हैं जिनपर गंभीरता से विचार करने की आवश्यकता है। सरकारी विज्ञापनों को देखें तो महसूस होगा कि कैंसर का एकमात्र या उसका सबसे बड़ा कारक तम्बाकू है। यह एक अर्द्धसत्य है।

Read more ...
 

'पद्मावत' के बहाने

आज इक्कीसवीं सदी में भी काल्पनिक जातीय स्वाभिमान की बुनियाद पर खड़ी करणी सेना जैसी जातीय सेनाओं से जैसी मूर्खता और उद्दंडता की उम्मीद होती है, वह वैसा ही आचरण कर रही है। घटनाक्रम का दुखद पक्ष यह है कि करणी सेना के बहाने समूची राजपूत जाति को कायर बताकर लांछित और कलंकित करने का सुनियोजित अभियान सोशल मीडिया पर चलाया जा रहा है।

Read more ...
 

देश बड़ा कि धर्म ?

राष्ट्रवाद और देशभक्ति की लगातार उटपटांग परिभाषाएं गढ़ने वाले कथित राष्ट्रवादी इन दिनों देश के मुसलमानों और खुद को धर्मनिरपेक्ष मानने वाले लोगों से एक सवाल अक्सर पूछते हैं - धर्म बड़ा या देश ? सोशल मीडिया उनकी ऐसी जिज्ञासाओं से पटा हुआ मिलता है। इस सवाल के पीछे कोई दृष्टि अथवा जिज्ञासा नहीं, चिढ़ाने की भावना ही ज्यादा होती है।

Read more ...
 

Politics

फरिश्ते आसमान से नहीं उतरते

ये किस्सा सुनकर शायद आप यकीन न करें। पर है सच। मुंबई के एक मशहूर उद्योगपति अपने मित्रों के सहित स्वीट्जरलैंड के शहर जेनेवा के पांच सितारा होटल से चैक आउट कर चुके थे। सीधे एयरर्पोट जाने की तैयारी थी। तीन घंटे बाद मुंबई की फ्लाइट से लौटना था। तभी उनके निजी सचिव का मुंबई दफ्तर से फोन आया। जिसे सुनकर ये सज्जन अचानक अपनी पत्नी और मित्रों की ओर मुड़े और बोले,

Read more ...
 

मोदी जी उत्तर प्रदेश को संभालें

भाजपा के शिखर नेतृत्व के मन में गत तीन महीनों में यह प्रश्न कई बार आया होगा कि गुजरात के चुनाव में इतनी मश्शकत क्यों करनी पड़ी? विपक्ष ने गुजरात मॉडल को लेकर बार-बार पूछा कि इस चुनाव में इसकी बात क्यों नहीं हो रही? विपक्ष का व्यंग था कि जिस गुजरात मॉडल को मोदी जी ने पूरे देश में प्रचारित कर केंद्र की सत्ता हासिल की, उस मॉडल का गुजरात में ही जिक्र करने से भाजपा क्यों बचती रही?

Read more ...
 

चलो कांग्रेस को समझ में तो आया

गुजरात चुनाव के फैसले जो भी हो, एक बात स्पष्ट है कि आजादी के बाद, ये पहली बार है कि कांग्रेस को यह बात समझ में आई कि हिंदुओं की धार्मिक भावनाओं को सार्वजनिक रूप से स्वीकार किये बिना बहुसंख्यक हिंदू समाज में उसकी स्वीकार्यता नहीं हो सकती। यही कारण है कि राहुल गांधी ने इस बार अपने चुनाव अभियान में गुजरात के हर मंदिर में जाकर भगवान के दर्शन किये।

Read more ...
 

Art & Culture

i-Proclaim Annual Research Award, 2017

It is indeed an astounding pleasure to convey that i-Proclaim 3rd Annual Research Conference (About Business, Humanity and Law) has already been organized on 31st December, 2017 at Mini Auditorium, IIUM in Kuala Lumpur, Malaysia. This prestigious international event has provided the scholarly academic platform

Read more ...
 

Academic Leadership Award 2017

Green ThinkerZ Society, one of the accelerating societies in the world has already recognised the salient contributions of individuals in their great academic and administrative domains respectively. It is a remarkable initiative of this prestigious society to stimulate all the elite leaders just not to contribute a lot for this overwhelming nation

Read more ...
 

दुनिया के पहले गणतंत्र की स्मृतियां !

भारत अपने गणतंत्र का अडसठ साल पूरे कर रहा है। राष्ट्रीय गौरव के इस मौके पर आईए आज हम याद करते हैं दुनिया के उस पहले गणतंत्र की जिसने मानवता को लोकशाही की राह दिखाई थी ! छठी शताब्दी ईसा पूर्व में जब सारी दुनिया में वंश पर आधारित राजतंत्र अपने चरमोत्कर्ष पर था, वर्तमान बिहार का वैशाली वह एकमात्र राज्य था जहां का शासन जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधि करते थे।

Read more ...
 

Editor's Pick

नागरिक उड्यन मंत्रालय जैट एयरवेज की जेब में

 

इसी कॉलम में हम 2015 में लिख चुके हैं कि ‘जैट एयरवेज’ किस तरह से भारत सरकार को अपनी अंगुलियों पर नचाकर यात्रियों की जिंदगी से खिलवाड़ और देश से गद्दारी कर रहा है। हमारी तमाम शिकायतें प्रमाणों के साथ सीबीआई के दफ्तरों में 2015 से धूल खा रही है। भारत सरकार का गृह मंत्रालय तक जैट ऐयरवेज के अपराधों पर पर्दा डाले हुए था।

Read more ...
 

वो ग़म हसीन है जिस ग़म के ज़िम्मेदार हो तुम !

पिछली सदी के चौथे और पांचवे दशक की अभिनेत्री तथा गायिका सुरैया उर्फ़ सुरैया जमाल शेख़ उस दौर की भारतीय सिनेमा की पहली सुपर स्टार थी। उन्हें हिंदी सिनेमा की पहली 'ग्लैमर गर्ल' भी माना जाता है। वे अपने अभिनय-क्षमता के साथ अपने चुंबकीय व्यक्तित्व, शालीन सौंदर्य, दिलफ़रेब अदाओं और अभिनेता देव आनंद के साथ अपने विफल प्रेम के लिए भी चर्चा में रही।

Read more ...
 

सर्वोच्च न्यायालय में तूफान: तस्वीर का दूसरा पक्ष

सर्वोच्च न्यायालय के इतिहास में पहली बार 4 वरिष्ठतम् न्यायाधीशों ने भारत के मुख्य न्यायाधीश की कार्य प्रणाली पर संवाददाता सम्मेलन कर न्यायपालिका में हलचल मचा दी। उनका मुख्य आरोप है कि राजनैतिक रूप से संवेदनशील मामलों में उनकी वरिष्ठता को नजरअंदाज कर, मनचाहे तरीके से केसों का आवंटन किया जा रहा है। इस अभूतपूर्व घटना पर देश की न्याय व्यवस्था से जुड़े लोग,

Read more ...
 

Email Subscription

Joomla forms builder by JoomlaShine

Address: 89 Trilok Apartment IP Extension New Delhi - 92

Telephone: + 91 9871446186

E-mail: info@aakhirkyon.com

Website: www.aakhirkyon.com

Go to top