Menu

Editor Pick

 "I wrote poems in my corner of the Brooks Street station. I sent them to two editors who rejected them right off. I read those letters of rejection years later and I agreed with those editors". - Carl Sandburg

 

 

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

International Conference on Interdisciplinary Research for Sustainable Development-2017...
Once “Educational Resplendence” is the great priority to move then the communal superiority is just a matter of time, which ensures our unconditional academic fondness in style.

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

उ. प्र. के मेडिकल कॉलेज दाखिले के घोटाले को लेकर चल रहे एक मामले में पिछले हफ्ते सर्वोच्च न्यायालय में जनहित याचिका के वकील प्रशांत भूषण ने भारत के मुख्य न्यायाधीश पर अनैतिकता का  सीधा आरोप लगाकर हंगामा खड़ा कर दिया। जिसकी देश में काफी चर्चा है। प्रशांत भूषण के इस साहस की मैं भी प्रशंसा करता हूं। क्योंकि मैं इस बात से सहमत नहीं हूं कि अगर कोई

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

Shocking revelation by CBI yesterday has unearthed cover up by Haryana Police in brutal murder of Pradyumn Thakur on Sep-8 in Delhi's Ryan International (or 3rd class ?) school. Haryana police initially booked poor conductor Ashok Kumar (by usual way of confession by torture)

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

हमारी पृथ्वी संभवतः ईश्वर की सबसे सुन्दर रचना है। यहां प्रकृति का अथाह सौन्दर्य भी है, विविधताओं से भरा जीवन भी और जीवन के पैदा और विकसित होने की सर्वाधिक अनुकूल परिस्थितियां भी। इसका सौन्दर्य स्वर्ग के देवताओं को भी आकर्षित करता रहा है। यह हम हैं जो अपने स्वार्थ और मूर्खताओं की वज़ह से स्वर्ग से सुन्दर इस पृथ्वी को भी नर्क बनाने पर तुले हुए हैं।

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

 

फिल्म संगीत के सुनहरे दौर के सबसे सुरीले संगीतकारों में से चित्रगुप्त भी एक थे। चल उड़ जा रे पंछी, तेरी दुनिया से दूर चले होके मज़बूर, एक रात में दो दो चांद खिले, मुझे दर्दे दिल का पता न था मुझे आप किसलिए मिल गए, महलों ने छीन लिया बचपन का प्यार मेरा, लागी छूटे ना अब तो सनम, उठेगी तुम्हारी नज़र धीरे-धीरे, मुफ्त हुए बदनाम किसी से हाय दिल को लगा के,

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

बुद्ध की कथाओं की सुजाता को हम उस स्त्री के तौर पर ही जानते हैं जिसने कठोर तपस्या के कारण मरणासन्न बुद्ध को खीर खिलाकर उन्हें नया जीवन और जीवन के प्रति संतुलित दृष्टि दी थी। इस एक प्रसंग के कारण सुजाता का गौतम को बुद्ध बनाने में बड़ा योगदान माना जाता है । इस प्रसंग के अतिरिक्त भी बौद्ध-ग्रंथों में सुजाता के जीवन, उसके ह्रदय परिवर्तन और अंत के बारे में भी कुछ सूचनाएं हैं जिनसे

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive

Massimo Quarta the world renowned as ‘embodiment of elegance’ visited Pune. He played violin to selected audience. Massimo Quarta is known for his sonority and elegance of diction. We find the very rare refinement of Violin. He is awarded in 2004 of ‘La monde de la Musique, this offered him

The Exemplary Educational Reward

Dr. Rumki Gupta, Eminent Scientist, Psychology Research Unit, Indian Statistical Institute, Kolkata, India has achieved the mindboggling academic cognizance in International Conference on Interdisciplinary Research and Technological Developments, which has taken place on 28th October, 2017 at Hotel Shambala in Kathmandu, Nepal.

Read more ...
 

DEMONETISATION 2016

On November  8th 2016  our Honourable Prime Minister Narendra Damodardas MODI    urf MODIji made a great announcement of “ Chalanbandi “, “ Vimudrikaran “   “ DEMONETISATION  ”.  And from Nov. 9th to Dec 30th he put a BAN on all 500 and 1000 notes.PM Modiji announced on Nov 8th that the high value currency

Read more ...
 

हमसे नज़रिया काहे फेरी हो बालम !

पिछली रात दिल का दौरा पड़ने से देश की महानतम शास्त्रीय गायिकाओं में एक 88-वर्षीय गिरिजा देवी का पिछली रात निधन भारतीय संगीत प्रेमियों के लिए सदमें जैसा है।कल तक वे अपनी पीढ़ी की अंतिम जीवित गायिका थीं। बनारस घराने की इस विलक्षण गायिका को ठुमरी और दादरा जैसी उपशास्त्रीय और लोक गायन की शैलियों को लोकप्रियता का शिखर देने का श्रेय जाता है।

Read more ...
 
Go to top