Menu

User Rating: 0 / 5

Star InactiveStar InactiveStar InactiveStar InactiveStar Inactive
 

Human ignorance is vaster than the expanse of the universe. Moreover, the former is ever widening,' opined Sir Carveth Reid in his magnum opus ' Man and his superstitions.' The highly evolved Smriti Irani's latest piece of wisdom to introduce Sanskrit to all IITs is a glaring manifestation of this boundless ignorance.

Granted, Sanskrit is a great classic language like Latin, Greek and Hebrew. But is it a functional language any longer? No one speaks or uses it as a language of conversation any more. What will students gain to learn this virtually dead language which is supposed to be a repository of great profundity because of Vedic mathematics and other recondite facets of ancient knowledge? If Sanskrit is included, then why not Arabic? It's now a universally known fact that the Arabs gave zero (cipher in Arabic and now used in English without italics) to the world. Arabs were adept at mathematics and much before the English mathematician Sir Isaac Newton, they created and developed theorems, even as advanced as differential calculus. Between eight and thirteen centuries, Arabs revolutionised and enriched the corpus of mathematics. Even before that, Pythagoras stole his theorems from Arab mathematicians. From this perspective, IIT students must learn Arabic rather than Sanskrit to understand the roots of maths! Will HRD introduce Arabic to IIT? Never. It's the language of Muslims!

योगी आदित्यनाथ जी हकीकत देखिए !

ऑडियो विज्युअल मीडिया ऐसा खिलाड़ी है कि डिटर्जेंट जैसे प्रकृति के दुश्मन जहर को ‘दूध सी सफेदी’ का लालच दिखाकर और शीतल पेय ‘कोला’ जैसे जहर को अमृत बताकर घर-घर बेचता है, पर इनसे सेहत पर पड़ने वाले नुकसान की बात तक नही करता । यही हाल सत्तानशीं होने वाले पीएम या सीएम का भी होता है ।

Read more ...
 

तुम्हारा वह अंदाज़ याद रहेगा, ठाकुर !

हिन्दी सिनेमा के सौ साल से ज्यादा लम्बे इतिहास में जिन अभिनेताओं ने अभिनय को नए आयाम दिए और नई परिभाषाएं गढ़ी, उनमें स्वर्गीय संजीव कुमार उर्फ़ हरिभाई जरीवाला एक प्रमुख नाम है। अपने भावप्रवण चेहरे, विलक्षण संवाद-शैली और अभिनय में विविधता के लिए विख्यात संजीव कुमार एक बेहतरीन अभिनेता ही नहीं, अभिनय के एक स्कूल माने जाते हैं।

Read more ...
 

मोदी की इजराइल यात्रा के निहितार्थ !

फिलिस्तीन और इजरायल के बीच तनाव और संघर्ष के कई दौर मानव इतिहास की सबसे बड़ी त्रासदियों में एक है। उनकी लड़ाई में हज़ारों लोग मारे जा चुके हैं जिनमें ज्यादातर बेगुनाह नागरिक और मासूम बच्चे शामिल हैं। मसला दोनों के अस्तित्व से ज्यादा ऐतिहासिक वजहों से उनके बीच सदियों से पल रही बेपनाह नफरत का है।

Read more ...
 
Go to top